Maa poem in hindi – माँ पर कविता

शेयर करें!

दोस्तों, आज इस पोस्ट में हम आपके साथ माँ पर लिखी कविता (maa poem in hindi) शेयर कर रहे है। वैसे तो माँ को परिभाषित करना किसी के बस की बात नहीं हैं। माँ-बाप को भगवान के सम्मान माना जाता हैं। इसलिए ही भगवान विष्णु भी माँ का प्यार पाने के लिए बार-बार इस धरती पे जन्म लेते है। इस mother’s day 2021 पर हम आपके लिए यह hindi poem on mother, maa kavita लेकर आए है।

जीवन की आपाधापी में
पल सुकून का होती मां,

विश्वास करे ना जब कोई तुम पर
तो थामें हाथ संग होती मां,

 बच्चों की खुशी में खुश हो जाती
बच्चों के दुख में रोती मां,

बिखरता जब कोई भी रिश्ता
एक धागे में पिरोती मां,

 बेवजह सताए जब तुम्हें कोई
अपना आपा खोती मां,

 देख बेबसी और लाचारी बच्चों की
अपनी पलकें भिगोती मां,

 छोड़ दे जब साथ साया भी
वहां भी खड़ी होती मां,

 टूट कर जब तुम बिखरते
नई उम्मीदें बोती मां,

मन के हो या हो कपड़ों के
सारे दाग धोती मां,

हो अगर तुम उलझन में उलझे
तो सारी रात ना सोती मां,

जिन हालातों में जीना मुश्किल
उनमें भी सपने नए संजोती मां,

गर्मी में शीतल छाया है
सर्दी में धूप सी होती मां,

तन मन की पीड़ा हर लेती
सीप का है मोती मां,

मां गुरु, मां पथ प्रदर्शक
सुख दुख की साथी होती मां,

बच्चों के जीवन रंगमंच पर
जाने कितने किरदारों में होती मां,

मन का कोना खाली उनका
जिनकी नहीं है होती मां !!


ये कविताएँ भी जरूर पढ़ें :-

Prem kavita in hindi -हुई राधिका कृष्ण दिवानी
Motivation poem hindi – चलना अभी जरूरी है!
Short Poetry in Hindi – चिड़िया का घोंसला
Best poem in hindi – आखिर क्यों नहीं किया प्रतिप्रश्न


दोस्तों, आपको यह maa kavita in hindi, कैसी लगी अपने Comments के माध्यम से ज़रूर बताइयेगा। इसे अपने Facebook दोस्तों के साथ Share जरुर करे। ऐसी ही और कविता पढ़ने के लिए shayaribell.com को follow जरूर करें।

Written by:- Minakshi Kundu
Image credit:- canva.com, freepik.com


शेयर करें!

Add a Comment

Your email address will not be published.