Prem kavita in hindi | हुई राधिका कृष्ण दिवानी

शेयर करें!

आज की हमारी कविता है एक Prem kavita in hindi है जिसका नाम “हुई राधिका कृष्ण दिवानी” है। इस short hindi poem में राधाकृष्ण के प्रेम की कविता के रूप में बहुत ही सुन्दर व्याख्या की है। प्रेम हो तो राधाकृष्ण जैसा जिसमें किसी भी तरह का छल ना हो, दोस्तों, अगर आप भी (hindi poetry on love)किसी से प्यार करे तो आपका प्यार भी राधाकृष्ण जैसा हो।

अजर-अमर ये प्रेम कहानी
हुई राधिका कृष्ण दिवानी
किसना के संग रास रचाया
बनी बांसुरी प्रेम निशानी,

कान्हा ने भी प्रेम निभाया
राधा को हृदय में बसाया
उन्हीं त्रिलोकीनाथ किशन की
बनीं राधिका मन की रानी,

मुरलीधर की मुरली राधा
राधा बिन मोहन है आधा
राधा लीलाधर की लीला
कहता है जमुना का पानी,

राधे-कृष्ण कहा जाता है
जब भी नाम लिया जाता है
श्रद्धा से हैं शीश झुकाते
जिसने इनकी बातें जानी,

प्रेम की बनकर एक मिसाल
करते हैं भक्तों को निहाल
राधा कृष्ण सा करो प्यार तुम
जो तुमको हो प्रीत निभानी!!


ये कविताएँ भी पढ़ें :-

Best poem in hindi – आखिर क्यों नहीं किया प्रतिप्रश्न
Motivation poem hindi – चलना अभी जरूरी है!
Short Poetry in Hindi – चिड़िया का घोंसला

दोस्तों, आपको यह prem kavita in hindi कैसी लगी हमें जरूर बताएं। ऐसे ही और inspiring poem in hindi, short hindi poem पढ़ने के लिए shayaribell.com को follow जरूर करें।  
धन्यवाद!

Written by:- Nidhi Neer
Image credit:- Canva.com


शेयर करें!

Add a Comment

Your email address will not be published.