भाई दूज की शुभकामनाएं सन्देश | Happy Bhai Dooj Wishes

शेयर करें!

Bhai Dooj Wishes, Images, Sms, Messages & Quotes – भाईदूज का त्योहार बहन और भाई के अटूट स्नेह और प्यार के बंधन को ओर मजबूत करने के लिए भारत और नेपाल में मनाया जाता है. Bhai Dooj 2021 Wishes. भाई दूज (Bhai Dooj 2021) भाइयों के प्रति बहनों की श्रद्धा और विश्वास का पर्व है. इस पर्व को हर साल कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की द्वितीया तिथि के दिन ही मनाया जाता है. भाईदूज मनाने की वजह क्या है इस बारे में बहुत ही कम लोगों को जानकारी है. भाई-बहन के स्नेह का प्रतीक यह पर्व दीपावली के दो दिन बाद मनाया जाता है. इसे यम द्वितीया भी कहते हैं!

–1–

थाल सजा कर बैठी हूं अंगना
तू आजा अब इंतजार नहीं करना
मत डर अब तू इस दुनियाँ से
लड़ने खड़ी हैं तेरी बहन सबसे।

–2–

बहन लगाती तिलक फिर मिठाई खिलाती है
भाई देता तोहफा और बहन मुस्कुराती है,
भाई बहन का ये रिश्ता न पड़े कभी लूज
मेरी तरफ से मुबारक हो आपको भाई दूज!

–3–

भाई बहन सदा रहे पास,
दोनों में अटूट प्यार रहे,
भाई दूज की हार्दिक शुभकामनाएँ !

–4–

प्रेम और विश्वास के बंधन को मनाओ
जो दुआ माँगो उसे तुम हमेशा पाओ,
भाई दूज के त्यौहार है, भईया जल्दी आओ
अपनी प्यारी बहना से आकर तिलक लगवाओ।
भाई दूज की शुभ कामनायें!

–5–

बहन चाहे भाई का प्यार,
नहीं चाहे महंगे उपहार,
रिश्ता अटूट रहे सदियों तक,
मिले मेरे भाई को खुशियाँ अपार.
हैप्पी भाईदूज!

–6–

भाई दूज का है आया शुभ त्यौहार
बहनों की दुआएं भाइयों के लिए हज़ार,
भाई बहन का यह अनमोल रिश्ता है बहुत अटूट
बना रहे यह बंधन हमेशा खूब।
भाई दूज की शुभ कामनायें!

–7–

यह त्योहार है कुछ ख़ास,
बनी रहे हमारे प्यार की यही मिठास।
Happy Bhai Dooj

भाई दूज क्यों मनाया जाता है?

एक पौराणिक मान्यता के अनुसार यमुना ने इसी दिन अपने भाई यमराज की लंबी आयु के लिए व्रत किया था और उन्हें अन्नकूट का भोजन खिलाया था। कथा के अनुसार, यम देवता ने अपनी बहन को इसी दिन दर्शन दिए थे. यम की बहन यमुना अपने भाई से मिलने के लिए अत्यधिक व्याकुल थी। अपने भाई के दर्शन कर यमुना बेहद प्रसन्न हुई. यमुना ने प्रसन्न होकर अपने भाई की बहुत आवभगत की!

यम ने खुश होकर उसे वरदान दिया कि इस दिन अगर भाई-बहन दोनों एक साथ यमुना नदी में स्नान करेगें तो उन्हें मुक्ति प्राप्त होगी. इसी कारण से इस दिन यमुना नदी में भाई-बहन आस्था की डुबकी लेते हैं. इसके अलावा यम ने यमुना ने अपने भाई से वचन लिया कि आज के दिन हर भाई को अपनी बहन के घर जाना चाहिए. तभी से भाई दूज मनाने की प्रथा चली आ रही है!



शेयर करें!
Tags:

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *