Shivratri: Lord Shiva Poem | शिव ही शक्ति है अर्धनारीश्वर

शेयर करें!

Lord Shiva Poem: हर हर महादेव! दोस्तों, आज हम शिवरात्रि के अवसर पर Lord Shiva Poem लाये हैं! इसमें भगवान शिव के दिव्य विवाह का गुणगान किया गया है! ये shiva poem in hindi ( shivaji poem ) शिव और शक्ति का मिलन दर्शाती है! आशा करती हूँ कि ये hindi kavita आपको ज़रूर पसंद आयेगी!

Lord Shiva Poem

शिव ही शक्ति है
शक्ति ही शिव है
कुछ भी नहीं, ही, सब कुछ है 
ओर सब कुछ, ही, कुछ नहीं है!

आज मनाओ खुशी शिव और शक्ति के मिलन की
कितने जन्म ना जाने शक्ति ने लिए
तब जाकर शिव से मिली!

शिव भी बैरागी बने शक्ति का इंतेज़ार किये
जब मिले शिव और शक्ति अर्धनारीश्वर कहलाए!
सम्पूर्ण ब्रह्मांड में हर्ष उल्लास का मोहत्सव बना
शिव की प्रिय शक्ति

अर्धांगनी कहलाई!
बिना शक्ति, शिव नहीं कुछ
शिव बिना, शक्ति भी कहा है कुछ

इतने जतन बाद ये दिन है आया
शिव शक्ति एक हुए ये वरदान सृष्टि को मिला
हर कोई बोले बम बम भोले!!


By Shubhi Gupta
Image credits: Canva

ये कविता shivaji poem in hindi नामक bhagwan shankar ji और mata parvati ji के विवाह पर आधारित है! हम आशा करते है आपको ये shivji poem in hindi पसंद आई होगी!

हर हर महादेव!


शेयर करें!

Add a Comment

Your email address will not be published.